कैम्पस - हिन्दी और मलयाली गीत एक साथ

भारत की अहिन्दी फिल्मों कई बार हिन्दी गीत सुनाई देते हैं. पिछले दिनों कई तेलुगु गीतों में हिन्दी की पंक्तिया दिखाई दीं हैं. मगर स्वतंत्र हिन्दी गीतों के लिए अहिन्दी भाषाओं में मलयालम का कोई जवाब नहीं है. मुझे अभी भी याद है कि ६-७ साल पहले हमारे एक नए बने मित्र हमें दक्षिण भारतीय समझकर चेन्नई से लाई हुई "हिज़ हाइनेस अब्दुला" की सीडी दे गए थे. उसमें येसुदास ने एक हिन्दी ग़ज़ल गाई थी.

पिछले दिनों एक अन्य मित्र के पास एक हिन्दी-मलयालम मिश्र अल्बम "कैम्पस" का आनंद उठाने का अवसर मिला. उसी का एक मधुर हिन्दी गीत आपके साथ बाँट रहा हूँ. स्वर निवेदिता का है, शब्द योगेश के और संगीत एम् जयचंद्रन का. आइये सुनें "कैसा ये जादू किया" उर्फ़ "ता-ता थय्या."

9 comments:

  1. राम त्यागी Says:

    bahut accha laga ..gaana sunakar ...

  2. ज्योति सिंह Says:

    is gaane ko sunvane ke liye shukriya kyonki ise pahli baar suni hoon . aur mujhe bahut mitha laga .

  3. MUFLIS Says:

    achhaa sangeet hai
    lekin
    is se pehli post mei
    music director Ravi ka gaya hua geet
    "qismat ke khel..."
    bahut pasand aaya
    meri khush-nseebi k ye geet maine
    unki zabaani (live) Chandigarh mei sunaa hai

    aabhaar .

  4. अक्षिता (पाखी) Says:

    प्यारा लगा..अच्छा है...

    _______________
    'पाखी की दुनिया' में आज मेरी ड्राइंग देखें...

  5. अरुणेश मिश्र Says:

    प्रशंसनीय प्रयोग ।

  6. shubh Says:

    aapki rachna bahut sundar hai
    kripya mera blog padhkar mujhe margdarshit kijiye ki mujhe apni kavitao me kya sudhar karna chahiye
    :)
    :P
    www.meriankahibate.blogspot.com

  7. shubh Says:

    aapki rachna bahut sundar hai
    kripya mera blog padhkar mujhe margdarshit kijiye ki mujhe apni kavitao me kya sudhar karna chahiye
    :)
    :P
    www.meriankahibate.blogspot.com

  8. प्रसन्न वदन चतुर्वेदी Says:

    अच्छी प्रस्तुति........बधाई.....

  9. Geetsangeet Says:

    उम्दा किस्म का गीत है, शुक्रिया जनाब.