विनोबा भावे के गीता ऑडियो

संसार के सबसे बड़े भूदान के प्रणेता आचार्य विनोबा भावे की पुण्यतिथि पर भाव स्मरण
आचार्य विनोबा भावे
(11 सितंबर 1895 - 15 नवंबर 1982)
विनोबा भावे के गीता प्रवचन ऑडियो निशुल्क उपलब्ध हैं
मराठी में सुनें (माधवी गणपुले)
---
हिन्दी में सुनें (अनुराग शर्मा)
---
गुजराती में सुनें (भीष्म देसाई)

7 comments:

  1. Ramakant Singh Says:

    कई बार सुनकर ही कुछ कह पाने की औकात बन पायेगी किन्तु शीघ्र ही जल्दी होगी टिप्पणी जो न्याय संगत न बने

  2. Ramakant Singh Says:

    कई बार सुनकर ही कुछ कह पाने की औकात बन पायेगी किन्तु शीघ्र ही जल्दी होगी टिप्पणी जो न्याय संगत न बने

  3. डॉ. मोनिका शर्मा Says:

    पूरा नही सुन पायी हूँ, पर एक सहेजने योग्य पोस्ट है ।
    विनोबा जी को नमन

  4. pbchaturvedi प्रसन्न वदन चतुर्वेदी Says:

    बहुत सुन्दर...उम्दा और बेहतरीन प्रस्तुति के लिए आपको बहुत बहुत बधाई...
    नयी पोस्ट@आंधियाँ भी चले और दिया भी जले

  5. Anita Says:

    अभी चौथा अध्याय सुन रही हूँ...अद्भुत ज्ञान का भंडार है यह प्रवचन माला...बहुत बहुत बधाई और आभार...विनोबाजी की समझ कितनी गहरी है और कितने सरल ढंग से समझाते हैं, आपका प्रस्तुतिकरण सोने में सुहागा है...

  6. premlata pandey Says:

    अभी दूसरा अध्याय शुरू हुआ है। बहुत मेहनत की है आपने विनोबा जी के गीत प्रवचनों को सुनवाने के लिए ! बहुत सुन्दर!

  7. premlata pandey Says:

    अभी दूसरा अध्याय शुरू हुआ है। बहुत मेहनत की है आपने विनोबा जी के गीत प्रवचनों को सुनवाने के लिए ! बहुत सुन्दर!