रामनवमी की शुभकामनायें!

पंडित नरेन्द्र शर्मा रचित भावमय भजन लता मंगेशकर और पंडित भीमसेन जोशी के सुन्दर स्वरों में:

राम का गुणगान करिये
राम प्रभु की भद्रता का, सभ्यता का ध्यान धरिये, ध्यान धरिये
राम का ...

राम के गुण गुण चिरंतन
राम गुण सुमिरन रतन धन
मनुजता को कर विभूषित, मनुज को धनवान करिए, ध्यान धरिये
राम का गुणगान करिये
राम का ...

सगुण ब्रह्म स्वरूप सुन्दर
सुजल रंजन रूप सुखकर
सुजल रंजन रूप सुखकर
राम आत्माराम, आत्माराम का सम्मान करिए, ध्यान धरिये
राम का गुणगान करिये
राम का ...


1 comments:

  1. Vinay Prajapati Says:

    नववर्ष की हार्दिक शुभकामनाएँ... आशा है नया वर्ष न्याय वर्ष नव युग के रूप में जाना जायेगा।

    ब्लॉग: गुलाबी कोंपलें - जाते रहना...